जीवन में सफलता पाने की चाहत हर किसी के अन्दर होती है। कुछ लोग इसके लिए दिन रात मेहनत करते हैं, लेकिन उन्हें मेहनत के अनुरूप सफलता नहीं मिलती है। जिस वजह से व्यक्ति के साथ-साथ उसका परिवार भी परेशानियों का सामना करता है। गुरुवार का दिन भगवाना विष्णु और वृहस्पति देव का दिन होता है। इस दिन दोनों की पूजा का विधान है। जब व्यक्ति के गुरु ग्रह में दोष होता है तो उसके विवाह में भी बाधाएं उत्पन्न होती हैं। इस दोष को आप कुछ उपायों द्वारा दूर कर सकते हैं। इससे आपको जीवन में सफलता और धन-दौलत की प्राप्ति भी होती है।

गुरुवार के दिन करें ये उपाय:

*- गुरुवार के दिन नहाने से पहले नहाने वाली बाल्टी में चुटकी भर हल्दी मिला दें। उसके बाद स्नान करें। स्नान करने के बाद “ॐ नामो भगवते वासुदेवाय” का जाप करते हुए केसर का तिलक लगायें और केले के पेड़ को जल अर्पित करें।

*- प्रत्येक गुरुवार के दिन भगवान शंकर को बेसन के बने हुए लड्डुओं का भोग लगायें। इससे आपकी कुंडली में जो भी ग्रह दोष होगा, सब दूर हो जायेगा।

*- इस दिन आप व्रत रखें और पुरे दिन पीले वस्त्र धारण करें। इस दिन नमक खाने से परहेज करें। जो भी चीज खाएं वो पीली होनी चाहिए। ऐसा ना होने पर उसमें थोड़ी हल्दी मिला दें। ऐसा करने से आपका गुरु दोष दूर हो जाता है।

*- गुरुवार के दिन प्रातः काल उठकर दैनिक क्रियाओं से निवृत्त होने के बाद भगवान विष्णु के समक्ष घी का दीपक जलाएं और विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें।

*- हर रोज इस मंत्र का “ॐ बृं बृहस्पते नम:” का 108 बार जाप करें।

*- इस दिन किसी भी मंदिर में जाकर किसी गरीब व्यक्ति को पीली वस्तुओं का दान करें। ऐसा करने से वृहस्पतिदेव प्रसन्न होते हैं और आपके जीवन की सभी परेशानियाँ ख़त्म ओ जाती हैं।

*- वृहस्पतिवार के दिन केले के पौधे के नीचे घी का दीपक जलाएं। हर दिन अपने माता-पिता या घर के सभी बड़े-बुजुर्गों का पैर छुए और उनका आशीर्वाद लें।

*- वृहस्पतिवार के दिन गाय को आटे की दो बड़ी गोलियों में हल्दी मिलाकर खिलायें। इस दिन गाय को गुड़ और चने की पीली दाल खिलाना भी शुभ फल देता है। ऐसा करने से विवाह के योग जल्दी बनते हैं।