एक देश एक टैक्स यानी जीएसटी आनें के बाद से कई लोग सरकार की इस नई टैक्स प्रणाली से काफी खुश नजर आये, तो वहीँ कई लोगों ने इस नई टैक्स प्रणाली का जमकर विरोध भी किया। वहीँ कुछ लोगों ने जीएसटी का सोशल मीडिया पर जमकर मज़ाक भी उड़ाया था। बड़े व्यापारियों को इस टैक्स प्रणाली की वजह से काफी घाटा भी सहना पड़ा था। जीएसटी आनें के बाद कई ऐसी मूलभूत चीजें थीं, जिनके दाम काफी बढ़ गए थे।

जीएसटी लागू होने के बाद से हो चुके हैं कई बदलाव:

लोगों ने यह सवाल भी उठाना शुरू कर दिया कि आखिर जीएसटी से फायदा क्या हुआ। हाल ही में चीजों के बढे हुए दाम की वजह से जीएसटी की 21वीं बैठक की गयी। अब आप सोच रहे होंगे कि 21वीं बैठक की क्या जरूरत पड़ गयी। आपको बता दें कि जब से जीएसटी लागू हुआ है, तब से उसमें कई संशोधन किये जा चुके हैं। नई लिस्ट जो जारी की गयी है, उसे आज हम आपको दिखाने जा रहे हैं।

घटाए गए हैं 40 जरुरी चीजों के दाम:

आपको जानकर हैरानी होगी कि इस लिस्ट में ज्यादातर आम आदमी के जरुरत की मूलभूत चीजें शामिल हैं। इस लिस्ट के आनें के बाद से सबसे ज्यादा फायदा देश के आम आदमी को होने वाला है। जानकारी के लिए आपको बता दें इस नई लिस्ट में रबर बैंड, झाड़ू, सूखी इमली, रेनकोट, कस्टर्ड पाउडर और अगरबत्ती के साथ 40 ऐसी चीजों के दाम घटाए गएँ हैं जो आम आदमी के जरुरत की चीजें हैं।

नहीं हुई है छोटी कारों के सेस में कोई बढ़ोत्तरी:

सरकार ने इन चीजों पर जीएसटी की दर को सस्ता करने के बारे में सोचा है। साथ ही जीएसटी काउंसिल ने छोटी कार खरीदनें की चाहत रखने वालों को भी सरकार की तरफ से तोहफा दिया गया है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बताया कि छोटी कारों से सेस में कोई बदलाव नहीं किया जायेगा, पहले यह खबर उड़ाई जा रही थी कि छोटी कारों के सेस में बढ़ोत्तरी हो सकती है।