अक्सर कई बार देखा गया है कि लोगों की खुद की गाड़ी खराब हो जाती है या वह पैदल होते हैं तो किसी से लिफ्ट लेते हैं। हालांकि अनजान लोगों को लिफ्ट देने से पहले कई बार सोच लेना चाहिए। इस वजह से ज्यादातर लोग लिफ्ट देते ही नहीं है। लेकिन कई लोग होते हैं, जिन्हें लोगों को लिफ्ट देने की आदत होती है। खासतौर पर जब कोई लड़की लिफ्ट माँगे तो कोई भी कैसे इनकार कर सकता है। लेकिन कई बार लड़कियों को लिफ्ट देना बहुत महँगा भी पड़ जाता है।

लिफ्ट देने वाले व्यक्ति की जमकर हुई पिटाई:

एक ऐसी ही घटना हाल ही में घटी है, जिसमें एक सरकारी कर्मचारी को रास्ते में बीमार महिला को लिफ्ट देना बहुत महँगा पड़ गया। उस व्यक्ति ने ऐसा सपनें में भी नहीं सोचा था कि उसके साथ ऐसा कुछ हो सकता है। दरअसल लिफ्ट देने वाले व्यक्ति को पहले महिला ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर लूटा, जब इससे भी उस महिला का पेट नहीं भरा तो उसनें आदमी की जमकर पिटाई भी की। हालांकि पुलिस ने महिला और उसके दोनों दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया। घायल व्यक्ति को अस्पताल में भी भर्ती करवाया गया।

बिमारी का बहाना बनाकर माँगा लिफ्ट:

राजपुर कॉलोनी के रहने वाले गुरुदेव सिंह बताया कि वह अपनी स्कूटी से घर जा रहे थे। इसी दौरान रास्ते में उन्हें एक महिला ने रुकने का इशारा किया। महिला के साथ एक आदमी भी था। आदमी ने कहा कि उसकी पत्नी बीमार है, क्या वह उसे घर तक छोड़ देंगे। जब वह उन्हें घर छोडनें गया तो उनके कमरे में पहले से ही एक व्यक्ति बैठा हुआ था। तीनों ने मिलकर उसे पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई की।

ब्लैकमेल करते हुए की 50 हजार रूपये की माँग:

इसी बीच गुरुदेव सिंह का लाइसेंसी रिवोल्वर गिर गया। इसके बाद तीनों को किसी बात का डर ही नहीं रहा। तीनों में मिलकर उसके 6 हजार रूपये और अंगूठी निकाल ली। महिला ने बेशर्मी की हद पार करते हुए जबरदस्ती उसके साथ फोटो खिंचवाई और उसे ब्लैकमेल करते हुए उससे 50 हजार रूपये की माँग की। वहाँ से छूटने के बाद गुरुदेव सीधे पुलिस स्टेशन पहुँचा। गुरुदेव ने तीनों आरोपियों के ऊपर लूट का केस दर्ज करवाया।