आँवले के बारे में तो सभी लोग जानते होंगे। यह कोई आम फल नहीं है बल्कि यह एक औषधीय फल है, जिसके अन्दर कई गुण हैं। इस फल की अबसे बड़ी ख़ासियत यह है कि इसके अन्दर एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं, जो कई बिमारियों को दूर रखते हैं। आंवला में कई विटामिन और गुणकारी तत्व पाए जाते हैं। आँवले में विटामिन C, A, E और B कॉम्प्लेक्स के अलावा कैल्शियम, फॉस्फोरस, पोटैशियम, जिंक, कैरोटिन, प्रोटीन, सोडियम-फाइबर जैसे जरुरी तत्व पाए जाते हैं।

किसी भी रोग के इलाज के लिए देते थे आँवले के सेवन की सलाह:

आँवले का प्रयोग कई सदियों से औषधि के रूप में किया जाता रहा है। पुरानें ज़माने के लोग आँवले का इस्तेमाल कई रोगों के इलाज के लिए आँवले का सेवन की सलाह देते थे। आज हम आपको बताएँगे एक एक छोटे से दिखने वाले आँवले से आप कैसे बड़ी-बड़ी परेशानियों से छुटकारा पा सकते हैं।

आँवले के इस्तेमाल से करें इन रोगों का इलाज:

*- मधुमेह:

मधुमेह आज के समय में सबसे तेजी से फैलने वाली बिमारी है। आज सबसे ज्यादा मरीज इसी लोग से पीड़ित हैं। मधुमेह के रोगियों के लिए आँवला किसी वरदान से कम नहीं है। मधुमेह के रोगी को आँवले का साव हल्दी के साथ करने से काफ़ी फायदा होता है।

*- पथरी:

बदलती जीवनशैली में गलत खान-पान की वजह से पथरी की समस्या कई लोगों को है। पथरी होने पर व्यक्ति को पेट में भयानक दर्द का सामना करना पड़ता है। ऐसे मेसूखे आँवले का चूर्ण बहुत ही फायदेमंद होता है। सूखे आँवले के चूर्ण को मूली के रस के साथ मिलाकर खाना चाहिए। ऐसा लगभग 40 दिनों तक करें, पथरी गल जाएगी।

*- बवासीर:

बवासीर एक बहुत ही कष्टदायक परेशानी है। बवासीर के मरीजों के लिए आँवला एक रामबाण इलाज माना जाता है। सूखे आँवले के चूर्ण को गाय के दूध के साथ कुछ दिनों तक सुबह-शाम हर रोज लें, जल्द ही आराम मिलेगा।

*- खाँसी और कफ़ की समस्या:

मौसम के बदलाव के साथ कई लोगों को खाँसी, जुकाम और कफ़ की समस्या हो जाती है। यह स्थिति बहुत ही बुरी होती है। अगर आप भी इस तरह की परेशानी से जूझ रहे हैं तो दिन में तीन बार आँवले के मुरब्बे को दूध के साथ लें। ज्यादा खाँसी की परेशानी से छुटकारा पानें के लिए आँवले के साथ शहद का सेवन करें।

*- यूरिन की समस्या:

कई लोगों को यूरिन त्याग के समय जलन होती है। यह जलन बहुत ही पीड़ा देती है। ऐसी स्थिति में आँवले के रस के साथ शहद का सेवन करना लाभदायक माना जाता है।

*- नकसीर बहना:

नक् से नकसीर बहने की समस्या से कई लोग परेशान होते हैं। ऐसा होने पर आँवले को बारीक पीस लें। अब इसे बकरी के दूध में मिलाकर अपने सर पर लेप करें।

*- दिल का रोग:

दिल के मरीजों के लिए भी आँवला काफी फायदेमंद होता हैदिल के मरीजों को हर दिन कम से कम तीन आँवले का सेवन करना चाहिए। दिल के रोगियों के लिए आँवले का मुरब्बा भी काफी फायदेमंद होता है।