नई दिल्ली – कई बार ऐसा देखने और सुनने को मिलता है कि पुलिस किसी बेगुनाह को किसी भी आपराधिक घटना में गिरफ्तार कर लेती है। अगर आपके साथ कभी ऐसा कुछ हो जाये तो आज हम आपको बता देते हैं कि आपको क्या करना चाहिए। पुलिस का नाम सुनते ही लोगों में डर हो जाता है। लेकिन, अगर आपने कोई अपराध नहीं किया है तो आपको डरने की बिल्कुल भी जरुरत नही है। कानून के तहत हर व्यक्ति को कुछ अधिकार दिए हैं। इन अधिकारों का इस्तेमाल आप पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये जाने के बाद कर सकते हैं। अगर किसी को पुलिस गिरफ्तार करती है, तो कानून ने उसे कुछ अधिकार दे रखे हैं। हर भारतीय को कानून के तहत कुछ अधिकार दिये गए हैं।

दिए गए हैं हर भारतीय को कानून के तहत कुछ अधिकार

यदि किसी व्यक्ति को पुलिस गिरफ्तार करती है या करने आती है तो भारतीय कानून व्यवस्था में ऐसे व्यक्ति के लिए कुछ अधिकार निर्धारित किये गए हैं। पुलिस भी इन अधिकारों को देने से किसी को मना नहीं कर सकती। आज हम आपको ऐसे ही 6 अधिकारों के बारे में बता रहे हैं, जिनका इस्तेमाल व्यक्ति गिरफ्तार होने के बाद कर सकता है।

ये हैं भारतीय को कानून के तहत कुछ अधिकार

#1.

सबसे पहले तो जो पुलिस वाले आपको गिरफ्तार करने आये हैं उनकी यूनिफॉर्म पर नेम प्लेट होना जरूरी है। अगर

#2.

गिरफ्तार करने से पहले हर व्यक्ति अपनी गिरफ्तारी का कारण जानना जरूरी है।

#3.

अगर किसी जमानती अपराध में किसी व्यक्ति की गिरफ्तारी हुई है। तो उसे जमानत पर छोड़े जाने के बारे में बताना जरूरी है।

#4.

गिरफ्तारी के वक्त पुलिस द्वारा तैयार किये गए मेमोरेंडम पर गिरफ्तार किये गए व्यक्ति के साइन होना जरूरी है।

#5.

जिस व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है उसे उसकी इच्छा के अनुसार व्यक्ति मिलने का अधिकार है।

#6.

किसी भी मामले में एक महिला की गिरफ्तारी केवल महिला पुलिसकर्मी ही कर सकती है। कोई और नहीं।

हर भारतीय को मालूम होने चाहिए ये कानूनी अधिकार

#1.

ऊपर हमने आपको गिरफ्तार किये जाने से पहले या बाद के अधिकार बताएं। लेकिन, अब आपको वो अधिकार बता रहे हैं जो हर भारतीय को दिये गए हैं। अगर आप ड्रिंक एंड ड्राइव में पकड़े जाते हैं और आपके 100ml ब्लड में अल्कोहल का लेवल 30mg से ज्यादा है तो बिना वारंट के आपकी गिरफ्तार हो सकती है।

#2.

कोई भी पुलिसवाला आपका FIR लिखने से मना नहीं कर सकता। अगर कोई ऐसा करता है तो उसे 6 महीने से 1 साल तक की जेल हो सकती है।

#3.

होटल चाहे 5 स्टार हो या न हो, आपको फ्री में पानी पीने और वाशरूम का इस्तेमाल करने से नहीं रोक सकता है।

#4.

शादीशुदा व्यक्ति का अविवाहित लड़की या विधवा महिला से उसकी सहमती से शारीरिक सम्बन्ध बनाना अपराध नहीं है।

#5.

वयस्क लड़के और लड़की का अपनी मर्जी से लिव इन रिलेशनशिप में रहना गैर कानूनी नही है।

#6.

दो वयस्क लड़के और लड़की से पैदा हुई संतान गैर कानूनी नहीं है। ऐसी संतान को अपने पिता की संपत्ति में हक़ मिलने का अधिकार भी दिया गया है।