ओकरा को लोकप्रिय रूप से हिंदी में ‘भिंडी’, तेलुगू में ‘बेंडाकाया’, तमिल और मलयालम में ‘वेंडाकाई’, कन्नड़ में ‘बेंडे’, गुजराती में ‘भिंडा’, मराठी में ‘भेंडी’ और बंगाली में ‘धेराश’ कहा जाता है। इसमें फाइबर की अधिक मात्र होती है। यह सब्जी आमतौर पर कई व्यंजनों में उपयोग की जाती है और यह कई पौष्टिक आहार प्रदान करती है क्योंकि यह बेहद फायदेमंद है। आइए आज हम आपको भिंडी खाने के फायदे के बारे में बताते हैं।

लेडी फिंगर या भिंडी खाने के फायदे हैं –

आइए भिंडी खाने के फायदे क्या क्या होते हैं जानें

  1. फाइबर की अधिक मात्रा सा

भिंडी में फाइबर की मात्रा काफी अधिक होती है। इसलिए, कई स्वास्थ्य विशेषज्ञ इसे पाचन प्रक्रिया को सही रखने के लिए खाने के लिए कहते हैं। फाइबर शरीर में पाचन की प्रक्रिया में सुधार करता है।

  1. मधुमेह से बचाता है

भिंडी मधुमेह की रोकथाम में मदद करती है। इसमें फाइबर अधिक मात्रा में पाया जाता है जो इस बीमारी की रोकथाम में मदद करता है। मधुमेह को नियंत्रित करने के लिए भिंड़ी का उपयोग करने का सबसे अच्छा तरीका ये है कि आप इसे पानी में भिगोकर रख दे और इसके पानी को पीये।

  1. फोलेट्स

भिंडी में मौजूद फोलेट्स नवजात शिशु में तंत्रिका ट्यूब में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी के इलाज में मदद करता है। इसलिए, गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को भिंडी खाने की सलाह दी जाती है।

  1. विटामिन K

विटामिन के रक्त-क्लोटिंग प्रक्रिया में सह-कारक की भूमिका निभाता है। यह हमारे शरीर में हड्डियों को मजबूत करने में प्रमुख भूमिका निभाता है। भिंडी में विटामिन K प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।

  1. अस्थमा को नियंत्रित करता है

यह सब्जी अस्थमा के इलाज में बेहद कारगर है। अस्थमा के रोगियों को इसलिए भिंडी खाने की सलाह दी जाती है।

  1. कब्ज रोकता है

पानी के उचित अवशोषण को सुनिश्चित कर भिंडी शरीर कब्ज की शिकायत को दूर करती है। यह कब्ज से परेशान रोगियों के लिए एक रामबाण इलाज है।

  1. कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित करता है

यह सब्जी रक्त में कोलेस्ट्रॉल के कारण होने वाले हृदय रोगों और बीमारियों को रोकने, कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करती है। कोलेस्ट्रॉल शरीर का एक प्रमुख कारक है जो मोटापा और हृदय रोगों को बढ़ाता है।

  1. जीआई (ग्लाइसेमिक इंडेक्स) की कमी

यदि आप मधुमेह के रोगी हैं, तो आपका डॉक्टर आपको कम जीआई वाले भोजन खाने की सलाह देगा। भिंडी उन खाद्य पदार्थों में से एक है जिसमें 20 से कम जीआई इंडेक्स पाया जाता है।

  1. गुर्दे के रोगों में लाभदायक

भिंडी खाने के फायदे में सबसे बड़ा फायदा टाइप -2 मधुमेह का निदान है। यही आपको गुर्दे की समस्याएं हैं तो आप अपने आहार में नियमित रूप से भिंडी खाये और पानी पिये। इससे गुर्दे की बीमारियों को रोकने में मदद मिलती है।

  1. बाल और त्वचा के लिए लाभदायक

भिंडी में पाए जाने वाले पोषक तत्व वास्तव में त्वचा संबंधी रोकों को रोकने में मदद करते हैं। इसमें पाये जाने वाला विटामिन सी आपको कम उम्र का दिखने में मदद करता है। यदि आप अपने बालों से परेशान हैं, तो भिंडी को पानी के साथ उबालें और इसे अपने बालों पर लगाये। ये आपके बालों के लिए भी बेहद पायदेमंद है।